alarm
Ask a question for free
Hindi
Todora

‘नफरत से नफरत बढ़ती है और स्‍नेह से स्‍नेह बढ़ता है’, इस तथ्‍य से संबंधित अपने विचार लिखो ।

answers: 1
Register to add an answer
Answer:

हम जो बोते है वाही नफरत एक ऐसी बाला है जो आदमी के अंदर की इंसानियत को खा जाती है । नफरत से भरा हुआ आदमी पशु समान बर्ताव करता है , वह हैवानियत पर उत्तर आते है वे एक दूसरे के खिलाफ ही होते है । आदमी यदि प्यार से एक दूसरे के साथ आऐ तो उनमे विचारो का आदान प्रदान होगा । जिससे उनके जरिए शुभ कार्यों की नीव रांची जा सकती है । समाज परिवर्तन होगा । स्नेह से आमिर- गरीब शिक्षित -अशिक्षित आदि समस्याओं की दूरियाँ ख़त्म हो जायेगी । मनुष्य में प्यार की उमंग होगी । नफरत से दूरियाँ पैदा हो गई है वहाँ प्यार से नजदीकियाँ हो जाएग

422
Zahari
For answers need to register.
Contacts
mail@expertinstudy.com
Feedback
Expert in study
About us
For new users
For new experts
Terms and Conditions