alarm
Ask a question
Hindi
rustic

Munshi premchand ki kahani "RAHASYA" not sabhyata ka rahasya par summary in more than 100 words​

answers: 1
Register to add an answer
Answer:

Answer:

कड़ी : प्रेमचन्द की कहानियाँ

सी-डॅक की साइट पर अनेकों ई-पुस्तकें उपलब्ध हैं। इन में से मेरी मनपसन्द हैं मुंशी प्रेमचन्द की कहानियों वाली ई-पुस्तकें। यह ई-पुस्तकें वर्ड फाइलों के रूप में उपलब्ध हैं और हर फाइल में ३ से ६ कहानियाँ हैं। सीडॅक ने यह बहुत उत्कृष्ट काम किया है। पर इन्हें पढ़ने और खोजने में मुझे कुछ दिक्कत होती रही है — एक तो वर्ड में खोलने पर अक्षरों के बीच में बहुत ज़्यादा जगह दिखती है (हाँ वर्डपैड में बढ़िया पढ़ी जाती हैं)। दूसरे यह खोजना पड़ता है कि कौन सी कहानी किस फाइल में है और कहाँ पर है। इस समस्या का समाधान करने के लिए मैं काफी समय से सोच रहा था कि इन को ऍचटीऍमऍल में रूपान्तरित करूँ, पर शुरू करने पर भी यह काम अधूरा छूटा हुआ था। अब ब्लॉगस्पॉट ने काम और आसान कर दिया। पिछले हफ़्ते से लग कर मैं ने इन सौ से ऊपर कहानियों को ब्लॉगस्पॉट पर चढ़ा दिया, ताकि सब लोग हिन्दी के महान कहानीकार मुंशी प्रेमचन्द की कहानियों का आनन्द ले सकें। अभी कुछ काम बाकी है — कुछ कहानियाँ अपलोड करनी बाकी हैं, और कई जगह पर वर्तनी की त्रुटियाँ हैं, उन को ठीक करना है। उम्मीद है इस हफ्ते में यह काम भी पूरा हो जाएगा। तो आनन्द लीजिए प्रेमचन्द की कहानियों का।

अपनी राय इस प्रविष्टि पर टिप्पणी के रूप में दें।

141
Agnese
For answers need to register.
135
cents
The time for answering the question is over
Contacts
mail@expertinstudy.com
Feedback
Expert in study
About us
For new users
For new experts
Terms and Conditions